विद्यार्थी प्रतियोगिताएँ

Student competition


विभिन्न प्रसंगों पर विद्यार्थीयों के लिए निबंध लेखन, वक्तृत्व, देशभक्तिगीत, चित्रकला, प्रश्नमंच खेलकुद आदि की प्रतियोगिताएँ रखी जाती हैं | प्रतियोगियों को पुरस्कृत किया जाता है |

आज आर्यसमाज टंकारा जो कार्य कर रहा है, उसमें समाज के सभी सदस्यगण, पदाधिकारी और आर्यवीरों का यथासामर्थ्य योगदान तो है ही, महर्षि दयानन्द स्मारक ट्रस्ट टंकारा के ट्रस्टियों और अधिकारियों का भी आशीर्वाद प्राप्त है | 


स्व. श्यामजीभाई आर्य स्मृति सम्मान

आर्यसमाज टंकारा के प्रति बच्चों और युवकों को जो लगाव है, उसका कारण स्व. श्यामजीभाई आर्य हैं | उनको बच्चों से बड़ा प्यार था व आर्यसमाज के प्रति समर्पित व्यक्ति थे | टंकारा आर्यसमाज से लगभग सन् १९४० से ही जूड गये थे | स्वयंसेवी प्रचारक थे | लोकशैली में गीत – द्रष्टातों से युक्त अपने प्रवचनों से ग्रामीण जनता को कठिन वैदिक सिध्धांत सरलता से समझाते थे | उनकी समृति में उनके देहावसान ( सन् १९९४ ) के बाद से यह सम्मान प्रतिवर्ष कक्षा १० व १२ में टंकारा में सर्वप्रथम आनेवाले विद्यार्थी को दिया जाता है |